Join WhatsApp GroupJoin Now
Join Telegram GroupJoin Now
Rajasthan

Rajasthan की बड़ी भर्ती चुनाओ की भेट चढ़ी ! भर्ती प्रक्रियापर लगी रोक : बेरोजगारों के सपने अधूरे !

Rajasthan की बड़ी भर्ती चुनाओ की भेट चढ़ी ! भर्ती प्रक्रियापर लगी रोक : बेरोजगारों के सपने अधूरे !

राजस्थान में 2024 के चुनाव के लिए आचार संहिता लग चुकी है और इस आचार संहिता के तहत बेरोज़गारों के रोजगार पर ग्रहण सा लग गया है। आपको बता दें राजस्थान में अब तक चुनाव आचार संहिता के चलते 41,836 पदों की भर्तियों पर रोक लग चुकी है। आपको बता दें एक और भर्ती पर रोक लग चुकी है।

बड़ी भर्ती इस पर रोक लग चुकी है। पांचवीं भर्ती है जिस पर रोक लगी है। कुल मिलाकर 41,836 पदों पर भर्तियां स्थगित कर दी गई है। प्रदेश में नई भर्तियां निकलना तो दूर जो पहले घोषित हो चुकी बढ़ती है वो भी लगातार अटक रही है। अभी अभी आपको बता दें 27 अक्टूबर से आपके मदरसा बोर्ड की शिक्षा निदेशक और कंप्यूटर आदेशक की भर्ती भी स्थगित कर दी गई है। इन दोनों भर्तियों के लिए 6843 पद रखे गए थे। संविदा पर आधारित भर्ती प्रक्रिया भी अब चुनाव में भेंट चढ़ चुकी है।

Rajasthan
Rajasthan

भर्ती में आचार संहिता लगने के कारण रोक लग चुकी है। आपको बता दें ये भर्ती पहले ही निकल चुकी थी, लेकिन मदरसा बोर्ड ने इस भर्ती के ऑनलाइन आवेदन की तिथियों को स्थगित कर दिया है। चुनाव आचार चुनाव निर्वाचन आयोग की तरफ से परमिशन नहीं मिल पाई। आचार संहिता के चलते अटकने वाली ये पांचवी भर्ती इससे पहले चार को अटका दिया गया है। मदरसा बोर्ड भर्ती सहित’ कुल मिलाकर पांच भर्तियां 41,836 पदों पर रोक दी गई।

इसी के साथ राजस्थान पुलिस कांस्टेबल के फिजिकल भी प्रक्रिया भी लगातार रोक दी गई। आपको बता दें युवाओं में खासी निराशा है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि चुनाव आयोग से अनुमति लेकर इन भर्तियों को जल्द से जल्द प्रारंभ कर दिया जाए। आपको बता दें चुनाव आचार संहिता के कारण मदरसा बोर्ड सबसे बड़ी भर्ती भी अब रोक दी गई है। इस भर्ती पर भी पूर्ण पर रोक लग चुकी है। अब आप इसमें आवेदन नहीं कर पाएंगे।

आपको बता दें इस भर्ती के लिए आवेदन शुरू हो चूके थे, जो 27 अक्टूबर से 25 नवंबर तक आवेदन भरने थे। 6843 पदों के लिए युवाओं से आवेदन की प्रक्रिया प्रारंभ होनी थी, लेकिन इस पर भी रोक लग चुकी है। आपको बता देते है कि यह कुल मिलाकर पांचवीं भर्ती जिस पर रोक लगी है। अब इन सभी की भर्ती की प्रक्रिया चुनाव आचार संहिता समाप्त होने के बाद प्रारंभ होंगी। तब तक युवाओं को धैर्य रखना होगा।

निराशा जरूर है और खास बात ये कि सरकार के द्वारा किसी भी भर्ती पर निर्वाचन आयोग के द्वारा सहमति नहीं ली गई या फिर सरकार विफल रही है। अनुमति लेने के लिए की जो भर्ती प्रक्रिया में हैं उन पर रोक नहीं लगाए जाए। ये बेरोज़गारों में खासा रोष इस बात को लेकर है कि राजस्थान सरकार किसी भी भर्ती की परमिशन नहीं ले पाई और हर बेरोजगार का हर भर्ती का अब इंतजार लंबा होता जा रहा है। आपकी सभी भर्तियों की अपडेट्स आपको हमारे टेलीग्राम ग्रुप पर मिलती है? टेलीग्राम ग्रुप जरूर ज्वाइन करके रखें। – ज्वाइन करने के लिए यहाँ दबाए — यहाँ दबाए

Join Telegram GroupJoin Now

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *